पीएम मोदी ने कहा कि कोलकाता आकर भावुक महसूस कर रहा हूं. नेताजी को नमन. बचपन से जब भी नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी का नाम सुना, मैं किसी भी स्थिति–परिस्थिति में रहा, इस नाम से एक नई ऊर्जा से भर गया.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती को मनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोलकाता में हैं. यहां पर उन्होंने नेताजी से जुड़े कई कार्यक्रमों में हैं. यहां पर उन्होंने नेताजी से जुड़े कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया. कोलकाता पहुंचते ही पीएम मोदी सबसे

पहले नेताजी भवन पहुंचे. यहां पर उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद पीएम मोदी ने नेशनल लाइब्रेरी का दौरा और फिर विक्टोरिया मेमोरियल पहुंचे. यहां पर उन्होंने लोगों को संबोधित किया और नेताजी की अहमियत बताई. प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान सरकार की उपलब्धियां भी बताईं और कहा कि नेताजी आज के भारत को देखते तो उन्हें गर्व होता.

पढ़ें, पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें…

पीएम मोदी ने कहा कि कोलकाता आकर भावुक महसूस कर रहा हूं. नेताजी को नमन. बचपन से जब भी नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी का नाम सुना, मैं किसी भी स्थिति-परिस्थिति में रहा, इस नाम से एक नई ऊर्जा से भर गया. पीएम मोदी ने कहा कि मैंने अनुभव किया है कि नेताजी का नाम सुनते ही हर कोई कितनी ऊर्जा से भर जाता है. उनकी ऊर्जा, आदर्श, तपस्या, त्याग देश के हर युवा के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है.

पीएम मोदी ने कहा कि नेताजी जैसे फौलादी इरादों वाले व्यक्तित्व के लिए असंभव कुछ नहीं था. उन्होंने विदेश में जाकर देश से बाहर रहने वाले भारतीयों की की चेतना को झकझोरा. नेताजी ने अंडमान में अपने सैनिकों के साथ आकर तिरंगा फहराया.

प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदुस्तान का एक-एक व्यक्ति नेताजी का ऋणी है. 130 करोड़ से ज्यादा भारतीयों के शरीर में बहती रक्त की एक-एक बूंद नेताजी सुभाष की ऋणी है.

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे संतोष है कि आज देश पीड़ित, शोषित वंचित को, अपने किसान को, देश की महिलाओं को सशक्त करने के लिए दिन-रात एक कर रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि नेताजी ने कहा था कि आजाद भारत के सपने में कभी भरोसा मत खोइए. दुनिया में ऐसी कोई ताकत नहीं है जो भारत को बांधकर रख सके. वाकई दुनिया में ऐसी कोई ताकत नहीं है जो 130 करोड़ देशवसियों को अपने भारत को आत्मनिर्भर भारत बनाने से रोक सके.

पीएम ने कहा कि नेताजी जिस भी स्वरूप में हमें देख रहे हैं, हमें आशीर्वाद दे रहे हैं. जिस भारत की उन्होंने कल्पना की थी, LAC से लेकर LOC तक, भारत का यही उन्होंने कल्पना की थी, LAC से लेकर LOC तक, भारत का यही अवतार दुनिया देख रही है.

https://www.aajtak.in/elections/bengal-assembly-elections/story/kolkata-victoria-memorial-netaji-subash-chandra-bose-pm-modi-speech-highlights-1196793-2021-01-23

Share and Enjoy !

0Shares
0

By Amibba

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0